चाण्डील डेम परिसर में हुई बैठक में संताली भाषा विजय दिवस का स्वागत, सम्मान, और साहित्यिक उत्कृष्टता की दिशा में महत्वपूर्ण निर्णय - decisions taken in the presence of shymal mardi

0

Chandil -  चाण्डील डेम परिसर होटेल आहार सृजन में दिनांक 22 दिसंबर को संताली भाषा विजय दिवस मनाने के लिए आयोजक मण्डली के अध्यक्ष श्री श्यामल मार्डी के अध्यक्षता में एक बैठक किया गया। बैठक में अखिल भारतीय संताली लेखक संघ झारखंड शाखा, पातकोम दिशोम माझी पारगाना माहाल, ओलचिकी हूल वैसी सराईकेला-खरसावां जिला कमेटी तथा ओलचिकी टीचर्स एसोसिएशन चाण्डील के पदाधिकारी व सदस्यगण उपस्थित थे। बैठक में 22 दिसंबर को संताली भाषा विजय दिवस चाण्डील के शीशमहल परिसर स्थित पातकुम म्यूजियम में संयुक्त रुप से मनाने का सर्वसम्मति से निर्णय लिया गया। इस मौके पर अखिल भारतीय संताली लेखक संघ झारखंड शाखा की ओर से टोठाकिया सांवहेद आखड़ा के माध्यम से चयनित सुपर हंड्रेड संताली राइटर्सों को समारोह पूर्वक सम्मानित किया जाएगा। साथ ही साथ विभिन्न ओलचिकी इतून आसड़ा के शिक्षक एवं छात्र-छात्राओं को भी सम्मानित किया जाएगा। इस मौके पर सांस्कृतिक कार्यक्रम का भी आयोजन किया जाएगा। संताली भाषा विजय दिवस को यादगार बनाने के लिए कोल्हान प्रमंडल के साथ-साथ झारखंड के अलग-अलग इलाकों से हजारों संताली साहित्यकारों तथा समाज के लोग उपस्थित रहेंगे। बैठक का संचालन अखिल भारतीय संताली लेखक संघ झारखंड शाखा के अध्यक्ष रजनी कान्त माण्डी ने किया तथा सचिव सुधीर चंद्र मुर्मू ने धन्यवाद ज्ञापन किया। बैठक में मुख्य रूप से साहित्यकार भुजंग टुडू, श्यामल मार्डी, हाराधन मार्डी, महेंद्र नाथ टुडू, परेश हांसदा, अरूण टुडू, रजनी कान्त माण्डी, सुधीर चंद्र मुर्मू, सत्यरंजन सोरेन, नरेन्द्र माझी, गोपाल मार्डी, अर्जून टुडू आदि उपस्थित थे।

Post a Comment

0 Comments
Post a Comment (0)

--ADVERTISEMENT--

--ADVERTISEMENT--

NewsLite - Magazine & News Blogger Template

 --ADVERTISEMENT--

To Top