सरना कोड लागू करने की मांग को लेकर सड़कों पर उतरे आदिवासी संगठन, 6 घंटे रहा सड़क जाम , Tribal organizations took to the streets demanding implementation of Sarna Code, road jam remained for 6 hours

0

ईचागढ़ - - सरायकेला-खरसावां जिला के ईचागढ़ प्रखंड क्षेत्र में भी सरना कोड लागू करने की मांग को लेकर पूर्व घोषित भारत बंद को सफल बनाने को लेकर विभिन्न आदिवासी संगठन सड़क पर उतरे। शनिवार को केन्द्रीय सरना समिति के आह्वान पर विभिन्न आदिवासी संगठन के कार्यकर्ताओं ने ईचागढ़ प्रखंड क्षेत्र के डुमटांड़ मोड़ पर हाथों में सरना झंडा लहराते हुए सड़क पर बांस लगाकर जाम कर दिया। सड़क जाम करने से सिल्ली रांगामाटी सड़क पर दोनों ओर भारी वाहनों का लंम्बी कतार लग गई। केन्द्रीय सरना समिति, कुड़ुक विकास परिषद, अखिल भारतीय आदिवासी विकास परिषद,सेंगेल अभियान सहित विभिन्न आदिवासी संगठनों के कार्यकर्ताओं ने ईचागढ़ डुमटांढ़, लावा ईचागढ़ व सिल्ली रांगामाटी सड़क को जाम कर आदि कोड लागू करने का मांग पर नारेबाजी करते रहे।

लोगों का आवाजाही पुरी तरह से ठप्प हो गया। वहीं एंबुलेंस, सादी समारोह व एमरजेंसी सेवा का वाहनों को छोड़ दिया गया। केन्द्रीय सरना समिति के सदस्य सह कुड़ुक विकास परिषद के अध्यक्ष अभिराम उरांव ने बताया कि केन्द्रीय सरना समिति के आह्वान पर आज भारत बंद रखा गया है। 


उन्होंने कहा कि आज डुमटांढ़ मोड़ पर विभिन्न आदिवासी संगठनों द्वारा सरना कोड लागू करने की मांग को लेकर चक्का जाम किया गया। उन्होंने कहा कि हम प्राकृतिक के पुजारी हैं और सरना को मानने वाले समुदाय है। उन्होंने कहा कि सरकार सरना कोड लागू करें। उन्होंने कहा कि हमारे विभिन्न संगठन आज सड़क पर उतर कर मांग कर रहे हैं। सरकार को जल्द निर्णय लेने की जरूरत है। मौके पर विश्वनाथ उरांव, राजेन सिंह मुण्डा, पशुपति सिंह, मृत्युंजय,आदर्श सिंह मुण्डा, अनिल, दिनेश उरांव सहित सैकड़ों लोग उपस्थित थे।

Post a Comment

0 Comments
Post a Comment (0)

--ADVERTISEMENT--

--ADVERTISEMENT--

NewsLite - Magazine & News Blogger Template

 --ADVERTISEMENT--

To Top