पटना से पूजा करने रजरप्पा आये दो युवक भैरवी नदी में बहे, बचाया गया , Two youths who came to Rajrappa from Patna to worship were swept away in Bhairavi river, rescued.

0
आसपास के फल फूल बेचने वाले लोगों ने काफी मशक्कत से दोनों को निकाला
रस्सी के सहारे नदी से निकलते युवक

रजरप्पा - उत्तर भारत के प्रसिद्ध सिद्धपीठ मां छिन्नमस्तिका रजरप्पा स्थित भैरवी नदी के तेज बहाव में बिहार से आए दो युवक फंस गये। दामोदर भैरवी संगम स्थल के पास दोनों युवक बचते बचाते एक गड्ढे में किसी तरह चट्टान को पकड़ा और खड़े होकर जान बचाने की गुहार लगाने लगे। यह देख स्थानीय और मंदिर न्यास समिति के पुजारी ने कड़ी मशक्कत के बाद दोनों युवकों को सकुशल नदी की तेजधार से बाहर निकाला। बिहार के पटना से श्रद्धालुओं की एक टोली शनिवार सुबह मां छिन्नमस्तिका के दर्शन करने के लिए पहुंची थी। जिसमें से एक युवक भैरवी नदी में नहाने के लिए चला गया। इस दौरान चट्टान पर उसका पैर फिसल गया और देखते ही देखते युवक बहने लगा। अपने मित्र को डूबता देख दूसरा युवक उसे बचाने के लिए नदी में कूद गया। और देखते ही देखते दोनों युवक पानी के तेज बहाव में बहने लगे।
रस्सी के सहारे स्थानीय युवक पिंटू भैरवी नदी की तेज धार में दोनों युवकों के पास पहुंचे। फिर एक-एक करके दोनों को रस्सी से बांधकर भैरवी नदी की तेज धार से निकालकर बाहर ले आए। उनके सकुशल बाहर आने पर वहां मौजूद लोगों ने मौत के मुंह से निकाल कर आए दोनों युवकों ने मां छिन्नमस्तिका के साथ साथ सभी लोगों को धन्यवाद दिया.
थोड़ी भी चुक होती तो हो जाती अनहोनी
मंदिर के वरिष्ठ पुजारी लोकेश पंडा ने बताया कि बिहार से आए दो युवक अचानक रजरप्पा मंदिर स्थित भैरवी नदी की तेज धार में बहने लगे। हमलोगों के साथ- साथ फूल प्रसाद बेचने वाले स्थानीय लोगों के साथ मिलकर उनका रेस्क्यू किया गया। हालांकि हम लोगों को समय मिल गया और माता का आशीर्वाद था, तभी दोनों युवकों की जान बच गई। पुजारी ने कहा कि अगर थोड़ी सी चूक हुई होती तो अनहोनी से इनकार नहीं किया जा सकता था।

Post a Comment

0 Comments
Post a Comment (0)

--ADVERTISEMENT--

--ADVERTISEMENT--

NewsLite - Magazine & News Blogger Template

 --ADVERTISEMENT--

To Top