Karuna May Mandal - डेंगू और टायफॉयड से ग्रसित कुष्ठ आश्रम के निवासियों को आयी राहत, पूर्व जिला पार्षद की तवरित कार्रवाई से लाए सम्पूर्ण चिकित्सा सहायता

0

" विगत कुछ हफ्तों से टायफॉयड डेंगू से पीड़ित हैं कुष्ठ आश्रम वासी, सूचना पाकर आज बारिश में भींगते हुए दीनबंधु कुष्ठ आश्रम (कुलडीहा) पंहुचे पूर्व जिलापर्षद करुणा मय मंडल, पीड़ितों से मिलकर जानें उनके हाल।
     ज्ञात रहे पोटका प्रखंड के कुलडीह पंचायत स्थित "दीनबंधु कुष्ठ आश्रम" के निवासियों की स्थित चिंतनीय है विगत कुछ हफ्तों से डेंगू एवं टायफॉयड से ग्रसीत इन कुष्ठ रोगियों को सरकारी किसी प्रकार की कोई भी चिकित्सा सहायता उपलब्ध तो दूर कोई सुधि लेने वाला भी नहीं है। अंतत: सूचना पाकर आज बारिश में भींगते हुए पूर्व जिला पार्षद करुणा मय मंडल पंहुचे दीनबंधु कुष्ठ आश्रम, जाने मरीजों के हाल चाल। ग्राम प्रधान बुद्धेश्वर पात्र ने बताए लगभग महिनें भर से आश्रमबासी डेंगू एवं टायफॉयड के प्रकोप से परेशान है पर सूचना देने पर भी कोई भी चिकित्सा सुविधा ना तो सरकार कि ओर से और ना ही निकटस्थ यू.सी.आई.एल. प्रबंधन के माध्यम से उपलब्ध करवाई गई और ना ही कोई जनप्रतिनिधि या समाजसेवी के माध्यम से सुधी ली गई। उन्होंने ने ये भी बताए की यहां डी डी टी का छिड़काव भी अभी तक नहीं करवाया गया है।भिक्षाटन से उपार्जन के राशी से सब की ईलाज करवाई जा रही है। जिसमें से _ १) दुली पात्र, २) यमुना पात्र, ३) शंकर कर्मकार (बच्चा) ४) हीरामोनी सोरेन, ५) शंभू कर्मकार तथा ६) देवी शर्मा, ७) गोंसाई सरदार की अभी भी ईलाज जारी है एवं स्थिति गंभीर बनी हुई है।
पूर्व पार्षद स्थिति की नजाकत को समझते हुए स्थल से ही दूरभाष पर पोटका सी.एच.सी.प्रभारी डा.रजनी महाकुड से संपर्क कि गई तथा उन्हें वस्तुस्थिति से अवगत करवाई गई उन्होंने त्वरित कारवाई के तहत आगामी कल ही मेडिकल टीम भेजकर मरीजों की समुचित चिकित्सा सहायता उपलब्ध करवाने की आश्वासन दिए। श्री मंडल के साथ समाजसेवी मुनीराम बास्के भी मौजूद थे।

Post a Comment

0 Comments
Post a Comment (0)

--ADVERTISEMENT--

--ADVERTISEMENT--

NewsLite - Magazine & News Blogger Template

 --ADVERTISEMENT--

To Top