भारत सेवाश्रम संघ ने श्री श्री मां जगधात्रि पूजा के लिए बड़े आयोजन का आयोजन किया , Bharat Sevashram Sangh organized a big event for Sri Sri Maa Jagdhatri Puja,

0



भारत सेवाश्रम संघ (दाबंकी) ने इस वर्ष श्री श्री मां जगधात्री पूजा के आयोजन के लिए एक बड़ा प्रस्ताव रखा है, जिसमें संतुलन बनाकर पवित्र अनुष्ठान को सफल बनाने के लिए सैकड़ों भक्तों को विभिन्न जिम्मेदारियां दी गई हैं। कार्यक्रम की देखरेख दबंकी आश्रम के महान गुरु रॉबिन महाराज ने की।

इस तीन दिवसीय विशाल आयोजन के तहत सोमवार 20 नवंबर 2023 को सुबह 3.30 बजे गुर्रा नदी से मंगल घाट तक कलश यात्रा निकलेगी, जहां पूजा स्थल पर मंगल घट की स्थापना की जायेगी. इसके बाद आचार्य वरण एवं मां की विशेष पूजा-अर्चना की जायेगी. शाम 7.30 बजे से वि.सं. एस. सबर नगर के छात्रों द्वारा आयोजित एक विशेष कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा।

21 नवंबर 2023, मंगलवार को सुबह 9 बजे से मां जगद्धात्री की पूजा शुरू होगी. दोपहर 12.30 बजे वीरभाव उद्दीपक मां की विशेष पूजा की जाएगी. दोपहर एक बजे से महाप्रसाद का वितरण किया जायेगा. इसके साथ ही रात्रि में विशेष आकर्षक कार्यक्रम आयोजित किये जायेंगे, जिसमें साबर नगर के विद्यार्थियों द्वारा पाला कीर्तन एवं श्रीमती रीना दास एवं संप्रदाय के प्रख्यात कलाकारों द्वारा आदिवासी नृत्य, गीत आदि के विशेष कार्यक्रम होंगे. शाम 7.15 बजे.

दशमी विहित पूजा एवं विसर्जन का आयोजन 22 नवंबर बुधवार को किया जाएगा। इस अनूठे कार्यक्रम के तहत, हजारों भक्तों को संतुलित करने के लिए विभिन्न भक्तों को अलग-अलग कार्य दिए गए हैं। यह पूजा आयोजन हर साल सभी भक्तों के लिए एक सार्वजनिक अनुष्ठान है, जिसमें माताओं का समर्थन सर्वोपरि रहता है और पूरी भव्यता के साथ मनाया जाता है।

बैठक में मुख्य रूप से दिशा-निर्देश देने के लिए रोबिन महाराज, पूर्व जिला पार्षद करुणा मय मंडल, कालिकापुर पंचायत के मुखिया बाघराय सोरेन, माधा हांसदा (ग्राम प्रधान), शिखोरेश गोप, भोला गोप, रोबिन्द्र भकत, जयंत मंडल, खुदी राम उपस्थित थे. महत्वपूर्ण कार्यक्रम. सुख लाल हेम्ब्रोम, लक्खी महली, सीता हेम्ब्रोम, जगदीश पुराण, बिमल मंडल, चुनू राम सबर, दिलीप पाल, श्रीकांत नंदी, काली दास (शिक्षक), सदानंद दास, समीर मंडल, केदार मंडल, गगन किस्कू सहित कई अन्य श्रद्धालु महिला-पुरुष . उपस्थित थे।

इस श्री मां जगधात्री पूजा के आयोजन के माध्यम से, दबंकी आश्रम संघ ने एक आदर्श और पवित्र परंपरा को बढ़ावा दिया है, जो लोगों को आध्यात्मिकता और सेवा के माध्यम से एक साथ आने का अवसर देता है।

इस अनूठी पूजा का उत्सव अनगिनत भक्तों के लिए आदर्श बन गया है और आने वाले वर्षों में यहां के लोग इसे बड़े उत्साह के साथ मनाएंगे।

Post a Comment

0 Comments
Post a Comment (0)

--ADVERTISEMENT--

--ADVERTISEMENT--

NewsLite - Magazine & News Blogger Template

 --ADVERTISEMENT--

To Top